Friday, February 8, 2019

badam ke fayde


सामान्य परिचय

                     दोस्तों हम सब यह जानते हैं कि बादाम बहुत ही लाभकारी मेवा है और यह बहुत ही आसानी से हम सभी के घरों में उपलब्ध हो जाता है। इसकी उपज पर्वतीय क्षेत्रों में अधिक होती है।इसके पेड़ों के तने काफी मोटे और इसके पत्ते लंबे,चौड़ेऔर रूई के समान मुलायम होते हैं। जब इस पेड़ पर फल आता है तो वह मींग के रूप में होता है और इस मींग के अंदर ही बादाम पाया जाता है।ये दो प्रकार का होता है मीठा बादाम और कड़वा बादाम। जी हां दोस्तों आपने सही सुना इसकी दो प्रजातियां होती हैं पहली मीठा वादाम और दूसरी कड़वा बादाम।कड़वे बादाम का उपयोग सामान्य रूप से नहीं किया जा सकता क्योंकि हमारे शरीर को बहुत नुकसान पहुंचाता है जबकि मीठा बादाम ऊपर से लाल रंग का अंदर से सफेद रंग का होता है और यही वादाम हम सभी उपयोग करते हैं। मुख्यतः भारत में जम्मू कश्मीर में इसकी फसल होती हैऔरइसके अलावा विश्व में इसका सबसे अधिक उत्पादन अरब देश किया करते हैं, चलिए दोस्तों अब हम विभिन्न समस्याओं में इसके उपयोगों को जान लेते हैं

कुत्ते के काटने पर

                         दोस्तों यदि किसी व्यक्ति को कुत्ता काट ले तो बादाम के द्वारा उसका घरेलू उपाय किया जा सकता है इसके लिए लगभग 4 ग्राम बादाम को शहद में मिलाकर लेने से कुत्ते के काटने का जहर नष्ट हो जाता है परंतु इसके लिए एक बात हमेशा याद रखें कि आपको मीठा बाधा भी प्रयोग में लाना है।

आंखों के लिये

                   आंखों से संबंधित सभी प्रकार की समस्याओं के लिए आप लगभग 5 से 6 बादाम रात को भिगोकर रख दें और सुबह को इन सभी बादाम का छिलका उतारकरसिलबट्टे पर घिसकरदूध में मिलाकर उपयोग करने से आंखों से संबंधित सभी रोगों में लाभ होता है परंतु दूध को गुनगुना ही प्रयोग करना चाहिए।
badam,badam ke fayde in hindi,almonds profits
badam ke fayde


चेचक के लिए – 

                    चेचक से निजात पाने के लिए आप 4 बादाम कोसुबह एक गिलास पानी के साथ उपयोग में लाइए और यह प्रक्रिया लगभग 10 से 15 दिन तक कीजिए ऐसा करने से चेचक के दाग हमेशा के लिए समाप्त हो जाते हैं

पीलियामें-

            पीलिया को सही करने के लिए आप रात के समय एक मिट्टी के कुल्हड़ में छह बादाम, तीन हरीइलायची और दो छुआरे भिगोकर रख दे और सुबह इन सभी को पीसकर इसमें लगभग 70 ग्राम मिश्री और 70 ग्राम ही मक्खन मिलाकर खाने से 3 दिन के भीतर ही पीलिया जड़ से समाप्त हो जाता है।

वजन बढ़ाने

                यदि आप कम वजन के रहतेखुद पर शर्म महसूस करते हैं तो चिंता की कोई बात नहीं है इसके लिए आप 12 बादाम रात को भिगोकर रख दे और सुबह इन सभी को पीसकर इसमें मक्खन मिलाकर डबल रोटी के साथ खाएं और ऊपर से एक गिलास दूध भी पियेंलगभग 6 महीने तक प्रतिदिन ऐसा करने पर आप सहीबजन पा सकेंगे।

सूखी खांसी में-

                   यदि आपको बार बार खांसी आती है परंतु कफ नहीं निकलता तो इसके लिए आप रात को 5 बादाम भिगोकर उन्हें सुबह छीलकर उसमें मिश्री मिलाएं और दिन में दो बार खाएं ऐसा करने से सूखी खांसी में लाभ मिलता है

गुलाबी होठों के लिये

                              यदि आप गुलाबी होठ पाना चाहते हैंतो इसके लिए आप प्रतिदिन एक बादाम और दो से तीन केसर की पत्ती मेंथोड़ी मात्रा में पानी मिलाकर पेस्ट बना ले और इस पेस्ट को अपने होठों पर लगा ले और 10 मिनट के बाद इसे छुटाकरपानी से होंठधोलेंऐसा कहने से फोटो में गुलाबी रंगत आने लगती है।
almonds,badam in hindi,profits of almonds
badam ke fayde hindi mein


मर दर्द में-               

                कमर दर्द के निस्तारण के लिए आपदिन में दो बार बादाम के तेल से अपनी कमर पर मालिश कीजिए और जब तक पूर्ण रूप से आराम ना मिले तब तक ऐसा करते रहिए इसके अलावा प्रतिदिन एक गोंद के लड्डू का भी सेवन कीजिए ऐसा करने से कमर दर्द ठीक हो जाता है

पित्त की पथरी के लिए

                              इसके लिए आप दो हरी इलायची, 6 बादाम, 6 मुनक्का और 4 ग्राम मगज खरबूजा और 100 ग्राम मिश्री लेकर उन्हें बारीक पीस लीजिए और एक ग्लास पानी में मिलाकर उसे छानकर पीने सेपित्त की पथरी में आराम मिलता है परंतु यह याद रखिएयह सब कुछ आपको प्रतिदिन करना है।
    

सिर चकराना

                  यदि आपको बार बार सिर में दर्द होने लगता है और चक्कर भी आने लगते हैंतो इसके लिए आप 3से4 बादाम भिगोकर रख दे और सुबह उनके छिलकेछीलनेके बाद उन्हें सिलवटें पर घिसकर एक गिलास दूध में मिलाकर पीने से दिमाग की शक्ति बढ़ती है और चक्कर आना बंद हो जाता है

त्वचा रोग के लिए

                        यदि आपको त्वचा से संबंधित कोई रोग हैतो इसके लिए आप बादाम को पीसकर सिरके में मिलाकर रख दे और इस लेप को त्वचा पर लगाएं ऐसा करने से त्वचा से संबंधित सभी रोग समाप्त हो जाते हैं

सांस रोग में

                 यदि आपको  है सांस रोगतो इसके लिए बादाम को गर्म पानी में भिगोकर रात में रख दे और सुबह इसे पका कर जूस तैयार कर ले और इस जूस को दिन में दो बार दो-दो चम्मच उपयोग करने पर सांस का रोग हमेशा के लिए समाप्त हो जाता है

गर्दन दर्द में-

                गर्दन के दर्द के निवारण के लिए बादाम के तेल की मालिश करनी चाहिए ऐसा करने से कहता का दर्द हमेशा के लिए समाप्त हो जाता है।

नाखून का जख्म – 

                      यदिजड़ से एक कच्चा नाखून उखड़ जाने के कारण जख्म हो गया है तो इसके लिए पहले जख्म को अच्छी तरह धो लेना चाहिए इसके लिए आप गर्म पानी का उपयोग कर सकते हैं और इसके बाद उस पर बादाम, हल्दी और घी मिलाकर लगाने से इसके द्वारा जख्म हमेशा के लिए ठीक हो जाता है।


बहुमूत्र रोग में

                    दोस्तोंरोग में प्रतिदिन दिन में दो बार बादाम को चीनी के साथ खाने पर यह रोग ठीक हो जाता है

तो दोस्तों मैं आशा करता हूं कि यह सभी उपाय आपके लिए बहुत ही उपयोगी सिद्ध हो और आप सभी का मुझे इसी प्रकार साथ और प्यार मिलता रहे और इसकी मुझे बहुत अधिक आवश्यकता भी है तो इसके लिए आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद



No comments:

Post a Comment

for more information plz comment below